Sunday, February 21, 2016

आपका अपना नजरिया

आपका अपना नजरिया,Hindi Kahani Sangrah, शिक्षाप्रद कहानियाँ, हिन्दी कहानी संग्रह, ज़िन्दगी,Best Hindi Motivational Stories | Hindi Moral Stories ! motivational story in hindi, hindi motivational story,

आपका  अपना  नजरिया


एक  आदमी  ने  जंगल  के  पास  एक  बहुत  सुंदर  मकान  बनाया  और  पेड़  पौधो  का  बगीचा  लगाया, जिससे  जंगल  से  आने - जाने  वाले  लोग  उसमें  रूक  कर  थोड़ा  आराम  करें। समय- समय  पर  लोग  आते  और  आराम  करते। वहा  का  गार्ड ( पहरेदार ) सभी  आने  जाने  वाले  लोगो  से  पूछता ‘‘आपको  यहाँ  पर  कैसा  लगा।  मालिक  ने  इसे किन  लोगों  के  लिए  बनाया  होगा ।’’

आने  जाने  वाले  लोग  अपनी- अपनी  नजरो  से  मालिक  का  मकसद  बताते  रहते । चोरों  ने  कहा- ‘‘एकांत  में आराम , योजना  बनाने  व  हथियार  छुपाने  और  लूटा  हुआ  सामान  का  बँटवारा  करने  के  लिए  मकान  अच्छा  हैं ।’’

यात्री  ने  कहा- ‘‘बिना  किसी  रोक- टोक  के  रात  को  रूकने  के  लिए।’’

जुआरियों  ने  कहा,- ‘‘जुआ  खेलने  और  लोगों   से  बचने  के  लिए  मकान  अच्छा  हैं ।’’

कलाकारों  ने  कहा- ‘' अकेले  में  एकाग्रता  के  साथ  कला  का  अभ्यास  करने  के  लिए।’’

 साधु  संतो  ने  कहा- ‘‘शांत  वातावरण  में  भजन - कीर्तन  करने  के  लिए  मकान  अच्छा  हैं ।’’

कुछ  विद्यार्थी  ने  कहा- ‘‘शांत  वातावरण  में  पढ़ने  व  अध्ययन  करने  के  लिए  मकान  सबसे  अच्छा  है।’’

हर  आने  जाने  वाला  आदमी अपनी - अपनी  नजरो  से  मकान को  देखता ।


शिक्षा - 
दरबान ने निष्कर्ष निकाला- ‘‘जिसका जैसा दृष्टिकोण होता है, वैसा ही उसका व्यक्तित्व होता ।जो  आपको  ऊपर  लेकर  जाता है।