Monday, February 8, 2016

स्वामी विवेकानंद : जीवन का मूल्य

स्वामी विवेकानंद : जीवन का मूल्य swami vivekananda thoughts on success in hindi swami vivekananda thoughts in hindi pdf free download swami vivekananda thoughts in hindi pdf swami vivekananda thoughts in english swami vivekananda thoughts in marathi swami vivekananda in hindi swami vivekananda books in hindi

स्वामी  विवेकानंद : जीवन  का मूल्य 


एक  आदमी  ने  स्वामी विवेकानन्द से  पुछा : जीवन  का  मूल्य  क्या  है? स्वामी  विवेकनन्द  ने  उसे  एक  पत्थर  दिया  और  कहा :इस  पत्थर  का  मूल्य  पता करके  आओ , लेकिन  ध्यान  रखना पत्थर को  बेचना  नही  है I

वह  आदमी  पत्थर को बाजार मे एक संतरे वाले के पास लेकर गया और बोला : इसकी कीमत क्या है? संतरे वाला चमकीले  पत्थर को  देखकर  बोला, "12 संतरे  लेजा और  इसे  मुझे  दे  जा "आगे  एक  सब्जी  वाले  ने  उस  चमकीले पत्थर  को  देखा और  कहा "एक  बोरी आलू  ले  जा और  इस  पत्थर  को  मेरे  पास  छोड़  जा" आगे  एक  सोना  बेचने वाले  के  पास  गया  उसे  पत्थर   दिखाया  सुनार  उस  चमकीले  पत्थर  को  देखकर  बोला, "50 लाख  मे  बेच  दे"lउसने  मना  कर  दिया  तो  सुनार  बोला "2 करोड़  मे  दे  दे  या  बता  इसकी  कीमत  जो  माँगेगा  वह  दूँगा तुझे.. उस  आदमी  ने  सुनार  से  कहा  मेरे  गुरू  ने  इसे  बेचने  से  मना  किया  है l

आगे  हीरे  बेचने  वाले  एक  जौहरी  के  पास  गया  उसे  पत्थर  दिखाया lजौहरी  ने  जब  उस  बेसकीमती  रुबी  को देखा , तो  पहले  उसने  रुबी  के  पास  एक  लाल  कपडा  बिछाया  फिर  उस  बेसकीमती  रुबी  की  परिक्रमा  लगाई माथा  टेका  lफिर  जौहरी  बोला , "कहा  से  लाया  है  ये  बेसकीमती  रुबी? सारी  कायनात , सारी  दुनिया  को  बेचकर भी  इसकी  कीमत  नही  लगाई  जा  सकती  ये  तो  बेसकीमती  है l"

वह  आदमी  हैरान  परेशान  होकर  सीधे  स्वामी विवेका  के  पास आया lअपनी  आप  बिती  बताई और  बोला "अब  बताओ  स्वामी  जी ,  मानवीय  जीवन   का  मूल्य  क्या  है? स्वामी विवेकानन्द
बोले : संतरे  वाले  को  दिखाया  उसने  इसकी  कीमत "12 संतरे " की  बताई  lसब्जी  वाले  के  पास  गया  उसने  इसकी  कीमत "1 बोरी आलू" बताई lआगे  सुनार  ने  "2 करोड़"  बताई lऔर  जौहरी  ने  इसे  "बेसकीमती" बताया lअब  ऐसा  ही  मानवीय  मूल्य  का  भी  है lतू  बेशक  हीरा  है..!!
लेकिन,  सामने  वाला  तेरी  कीमत ,अपनी  औकात -  अपनी जानकारी -  अपनी  हैसियत  से  लगाएगा। घबराओ  मत दुनिया  में.. तुझे  पहचानने  वाले  भी  मिल  जायेगे।